सादगी से बढ़कर कोई श्रंगार नहीं होता और विनम्रता से बढ़कर कोई व्यवहार नहीं होता ! शुप्रभात ☀???